For Friends

लोग दौलत देखते हैं, हम इज़्ज़त देखते हैं,लोग मंज़िल देखते हैं, हम सफ़र देखते हैं,लोग दोस्ती बनाते हैं, हम उसे निभाते हैं.

View More For Friends

Suraj Hikalne Ka Waqt

सूरज निकलने का वक़्त हो गया, फूल खिलने का वक़्त हो गया, मीठी नींद से जागो मेरे दोस्त, सपने हक़ीकत में लाने का वक़्त हो…

View More Suraj Hikalne Ka Waqt